Wednesday, 16 October 2019, 5:50 AM

 परमात्मा वहीं मिलेगें, जहां किसी का तिरस्कार न हो, सबकी मदद करने और पीड़ा नहीं पहुंचाने का भाव हो 

संबंधित ख़बरें

आपकी राय


5016

पाठको की राय