Saturday, 16 December 2017, 8:57 AM

महिलाओं के अधिकार

बाल अधिकार: संवारों मेरा बचपन

Updated on 27 July, 2016, 13:39
बाल अधिकार: मेरा बचपन को संवारों हमारा समाज अभी बाल अधिकारों के प्रति मित्रतापूर्ण बर्ताव करना नहीं सीख पाया है क्योंकि मूलत: हमारे यहां बच्चों को उनके माता-पिता की व्यक्तिगत संपत्ति समझा जाता है न कि एक नागरिक जिसे कि उतनी ही समानता का अधिकार है जितना कि किसी अन्य व्यक्ति... आगे पढ़े

समस्त नागरिकों को नि:शुक्ल विधिक सेवा व विधिक सलाह प्राप्त करने के लिए

Updated on 29 October, 2015, 12:30
समस्त नागरिकों को नि:शुक्ल विधिक सेवा व विधिक सलाह प्राप्त करने के लिए  '' न्याय सबसे लिए हैंÓÓ न्याय पाने का सभी को समान अधिकार है, आपको अवगत कराया जाता है कि यदि आप अपना प्रकरण न्यायालय में प्रस्तुत करना चाहते हैं, या आपका कोई प्रकरण किसी न्यायालय में लंबित है,... आगे पढ़े

22 अगस्त जेल परिसर में विधिक सहायता शिविर का आयोजन

Updated on 27 August, 2015, 13:48
22 अगस्त जेल परिसर में  विधिक सहायता शिविर का आयोजन सेट्रल जेल भोपाल महिला बंदियों के लिए परिसर में विधिक सहायता एवं साक्षरता शिविर का आयोजन दिनांक. 22-8-2015 को किया गया। उपस्थित महिलाओं को कानूनी जानकारी दी गई। शिविर में महिला कैदियों के 'केसÓ की स्थिति की चर्चा की गई। महिलाओं... आगे पढ़े

महिलाओं के भरणपोषण हेतु कानूनी अधिकार : सुश्री संगीता मोहरिर्र (अधिवक्ता)

Updated on 20 May, 2015, 13:16
महिलाओं के भरणपोषण हेतु कानूनी अधिकार: सुश्री संगीता मोहरिर्र (अधिवक्ता) भारत में महिलाओ को भरणपोषण प्राप्त करने के लिये कानून में कई प्रावधान है जिसमें से मुख्य है धारा 125 दंड प्रक्रिया संहिता के अंतर्गत दिये प्रावधान। उक्त धारा के अंतर्गत वो व्यक्ति जिसके पास समुचित आर्थिक साधन हो अपनी पम्नी नाबालिग जायज... आगे पढ़े

आपसी सहमति से विवाह विच्छेद सुश्री संगीता मोहरिर्र (अधिवक्ता)

Updated on 20 May, 2015, 13:14
आपसी सहमति से विवाह विच्छेद  हिदंुओ में विवाह एक संस्कार माना जाता है परंतु आज के युग में विवाह विच्छेद के प्रकरण अत्याधिक मात्रा में देखने को मिल रहे है। विवाह विच्छेद के कारण कई है एवं हिदू विवाह अधिनियम के तहत कानून द्वारा भी पति पत्नी को विवाह विच्छेद हेतु... आगे पढ़े

The Sexual Harassment of Women at Workplace (Prevention, Prohibition and Redressal)- Act and Rules, 2013 have come into force from December 09, 2013.

Updated on 16 December, 2013, 12:26
                                            The Sexual Harassment at Workplace (Prevention, Prohibition and Redressal) Act and The Sexual Harassment of Women at Workplace (Prevention, Prohibition and Redressal) Rules 2013,  has been notified by the Ministry of Women and Child Development. Both have come in to force from December 9, 2013. It was on 22nd April... आगे पढ़े

कामकाजी महिलाओं को मिला नया कानून

Updated on 27 April, 2013, 14:06
राष्ट्रपति ने कार्यस्थल पर यौन उत्पीडऩ रोकथाम विधेयक को दी मंजूर नई दिल्ली। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने कार्यस्थल पर यौन उत्पीडऩ रोकथाम विधेयक को अपनी मंजूरी दे दी है, जिसके बाद यह विधेयक कानून बन गया है। घर में काम करने वाली महिलाओं को भी इसके दायर में लाया गया है।... आगे पढ़े

Legal rights every woman must know

Updated on 13 April, 2013, 13:48
  RIGHT TO PRIVACY WHILE RECORDING STATEMENT Under section 164 of the Criminal Procedure Code, a woman who has been raped can record her statement before the district magistrate when the case is under trial, and no one else needs to be present. Alternatively, she can record the statement with only one... आगे पढ़े

कामकाजी महिलाओं का यौन उत्पीडऩ रोकने वाली बिल पारित : सुश्री संगीता मोहरिर्र (अधिवक्ता)

Updated on 21 March, 2013, 14:21
दिनांक 11 मार्च 2013 संसद में यौन उत्पीडऩ रोकने वाला बिल पारित हो गया है। संसद में बिना चर्चा के कामकाजी महिलाओं का यौन उत्पीडऩ रोकने संबंधित बिल को मंजूरी मिल गई। बिल में पहली बार असंगठित क्षेत्र में काम करने वाली महिलाओं के लिए प्रावधानकिया गया है। कार्यस्थल पर महिलाओं... आगे पढ़े

हिन्दू विवाह अधिनियम-1955 प्रेषक: सुश्री संगीता मोहरिर्र (अधिवक्ता)

Updated on 13 March, 2013, 13:20
    Publish date 2013-03-13 13:09:31     हिन्दू कौन? हिन्दू चाहे वे किसी भी जाति या सम्प्रदाय के हों। बौद्ध, जैन, सिक्ख। कोई भी ऐसा व्यक्ति जिसने अपना मूल धर्म छोड़कर हिन्दू धर्म अपनाया हो। आमतौर पर अनुसूचित जनजातियों पर यह कानून लागू नहीं होगा। हिन्दू विवाह की विधि: हिन्दू विवाह वर और कन्या के समाज... आगे पढ़े

कामकाजी महिलाओं का यौन उत्पीडऩ रोकने वाली बिल पारित

Updated on 13 March, 2013, 13:03
दिनांक 11 मार्च 2013 संसद में यौन उत्पीडऩ रोकने वाला बिल पारित हो गया है। संसद में बिना चर्चा के कामकाजी महिलाओं का यौन उत्पीडऩ रोकने संबंधित बिल को मंजूरी मिल गई। बिल में पहली बार असंगठित क्षेत्र में काम करने वाली महिलाओं के लिए प्रावधानकिया गया है। कार्यस्थल पर महिलाओं... आगे पढ़े

पुरुष अपनी मानसिकता को बदले...

Updated on 5 February, 2013, 16:25
पुरुष अपनी मानसिकता को बदले... हम लोकतांत्रिक और सभ्य देश होने का दावा करते हैं। यहां आम नागरिक भी किसी पर ज्यादती होने पर हस्तक्षेप का हक रखता है। गुवाहटी में एक मासूम लड़की पर हो रही ज्यादती रोकने में किसी नागरिक ने अपने इस हक का इस्तेमाल नहीं किया।... आगे पढ़े

क्या आपका जीवनसाथी आपको कभी...?

Updated on 5 February, 2013, 16:24
मारता, पीटता है, धक्का-मुक्की करता है या जख्मी करता है? अनचाहे यौन संबंध बनाने के लिए बाध्य या दमित करता है? आपको या अन्यों को मारने-पीटने की, घर से निकालने या निजी जानकारी देने के लिए धमकी देता है? आप क्या करती है या क्या देखती हैं उसे नियंत्रित करता है जो एक... आगे पढ़े

कार्यस्थल पर यौन उत्पीडऩ: पे्रषक: शिवेन्द्र पान्डेय

Updated on 5 February, 2013, 16:23
स्त्रियों ने अपनी सामूहिक लड़ाई और व्यक्तिगत संघर्ष के बलबूते लगातार सार्वजनिक दायरे में अपनी मजबूत उपस्थिति दर्ज की है। पर पुरुष प्रधान समाज के लिए स्त्रियों की सशक्ता की हर पहल कड़ी चुनौती बनता है। कार्यस्थल पर यौन उत्पीडऩ का मुद्दा भी इसी से जुड़ता है। दरअसल आज से... आगे पढ़े

घरेलू हिंसा से महिला संरक्षण अधिनियम 2005, नियम- 2006

Updated on 5 February, 2013, 16:22
घरेलू हिंसा से महिला संरक्षण अधिनियम 2005 के अधीन व्यथित व्यक्तियों के अधिकारों के विषय में जानकारी 1. यदि किसी व्यक्ति द्वारा अपने घर में जिसके साथ उसी में आप रहती हैं आपको पीटा जाता है, धमकी दी जाती है या उत्पीडि़त की जाती है तो आप घरेलू हिंसा की शिकार... आगे पढ़े