Monday, 18 February 2019, 10:04 AM

मेरी सहेली

बैंकिंग में भी स्मार्टनेस जरूरी है.

Updated on 16 January, 2015, 14:06
हलो मैं ..बैंक के हेड ऑफिस से बोल रहा हूं। आपका एटीएम कार्ड ब्लॉक हो गया है उसको फिर से अनब्लॉक करना है, मैं शुरुआत के अंक बता रहा हूं, कृपया आप आखिरी के चार अंक और अपना सीक्रेट पिन कोड बता दें, ताकि आपका एटीएम कार्ड चालू किया जा... आगे पढ़े

अपनी पहचान से संतुष्ट हूं

Updated on 16 January, 2015, 13:58
दिल्ली के सैनिक फार्म स्थित घर में नैना बलसावर से मुलाकात हुई। यलो-पर्पल प्रिंटेड साड़ी में वह बहुत शालीन और सुंदर दिख रही थीं। नियमित योग और डाइट का कमाल भी उनके चेहरे पर नजर आ रहा था। वह अपनी स्थितियों में खुश और संतुष्ट हैं। नैना ने दुनिया देखी... आगे पढ़े

मुझे पंख लग गए

Updated on 16 January, 2015, 13:54
निर्देशक के रूप में अपनी तीसरी फिल्म लेकर आ रहे हैं दिनेश यादव। प्रेम कहानी वाली फिल्मों से चर्चा में आए दिनेश की नई फिल्म ऐक्शन-थ्रिलर है। फिल्म 'धड़के तोहरे नावे करेजवा' के जरिए बतौर डायरेक्टर नाम कमा चुके दिनेश यादव ने अपने करियर की शुरुआत पत्रकारिता से की थी। उनके... आगे पढ़े

कामयाबी की कीमत

Updated on 14 January, 2015, 22:50
अगर हम अपनी जिंदगी की बैलेंस शीट का जायजा लें तो समझ आता है कि क्या पाने के लिए हमने क्या खोया है। फिर भी हमारी ख्वाहिशें कम नहीं होतीं। हमें सब कुछ सबसे अच्छा, ज्यादा और पहले चाहिए। क्या करें, हमारा मन भी मासूम बच्चे की तरह थोडा जिद्दी,... आगे पढ़े

महिलाओं के लिए मिसाल बनीं वामिनी

Updated on 14 January, 2015, 22:47
एक सामान्य धारणा है कि महिलाएं अच्छे से कार नहीं चला सकतीं। बाइक चलाना उनके बस की बात नहीं है। ऐसे में महिलाओं की ड्राइविंग स्किल पर कई चुटकुले भी बने हैं। लोग महिलाओं की ड्राइविंग कौशल का मजाक उड़ाते हैं व उन्हें खराब ड्राइवर माना जाता है। इस अवधारणा... आगे पढ़े

मनोबल रहे ऊंचा

Updated on 14 January, 2015, 22:46
मैं हर साल प्रथम श्रेणी में पास हुआ। कक्षा दस की बोर्ड परीक्षा के लिए तो मैंने ठान लिया था कि मैं अपनी मेहनत और लगन से कॉलेज में टॉप करूंगा। जब मेरा रिजल्ट इंटरनेट पर घोषित हुआ, तो मैं यह देखकर बेहद खुश हुआ कि मैंने 90 परसेंट अंक... आगे पढ़े

खिल रहे हैं नई सोच के रंग

Updated on 14 January, 2015, 22:43
प्यार देना स्त्री का स्वभाव है। उसकी शख्सियत में कोमलता है। भावुकता और समझदारी से वह हर रिश्ते को सहेजती है, पर जब आंच आती है उसके आत्म सम्मान पर तो वही कोमल हृदय स्त्री चत्रन सी मजबूत हो उठती है। उसके व्यक्तित्व में छलकने लगते हैं मजबूत इरादों, अदम्य... आगे पढ़े

न्यू एज राइटर्स

Updated on 14 January, 2015, 22:41
किताबें लिखना कोई नई बात नहीं है, लेकिन हाल के वर्षो में युवा राइटर्स की जो जमात सामने आ रही है, वह कई मायनों में डिफरेंट है। आइटी और मैनेजमेंट फील्ड में अपनी स्पेशलाइजेशन के जलवे दिखाने के बाद इन्होंने अपने शौक के चलते राइटिंग की ओर रुख किया है।... आगे पढ़े

लीडर तुम्हीं हो कल के..

Updated on 14 January, 2015, 22:38
हम में है लीडर कोई डॉक्टर बनना चाहता है, कोई इंजीनियर कोई आइएएस तो कोई वकील, लेकिन अब देश में ऐसी यंग जेनरेशन सामने आ रही है जो अपनी लीडरशिप में आम जन को असली आजादी का अहसास कराना चाहती है.. दिल्ली की सुनसान सडक पर रात के करीब नौ-दस बजे एक... आगे पढ़े

ऐसे बरकरार रखें अपना उत्साह

Updated on 14 January, 2015, 22:24
जिस प्रकार से पहले प्यार की अनुभूति जोश, रोमांच से परिपूर्ण होती है। उसी तरह से नई जॉब के साथ भी ऐसा ही अहसास होता है, पर वक्त के साथ यह अहसास ठंडा पड़ने लगता है। जॉब में ऐसा न हो इसके लिए आपको निरंतर प्रयास करते रहना चाहिए। मुस्कराहट से... आगे पढ़े

परफॉर्म करें या पीछे रहें

Updated on 14 January, 2015, 22:21
तरक्की पाने के लिए परफॉर्म करना जरूरी होता है, लेकिन कई एम्प्लायी ऐसे होते हैं, जो सामने आए अवसर को भुना नहीं पाते। कैसे खुद को ऑर्गेनाइजेशन के लिए वैल्यूएबल साबित करें, बता रहे हैं अरुण श्रीवास्तव.. उन तीन दोस्तों ने एक साथ स्टडी पूरी करने के बाद नौकरी भी लगभग... आगे पढ़े

साबित किया है खुद को

Updated on 14 January, 2015, 22:19
अकसर लोग एक खास उम्र के बाद करियर की शुरुआत करते हैं, लेकिन मेरा संघर्ष बहुत छोटी उम्र से ही शुरू हो गया था। संगीत से मुझे बेहद लगाव था और मैं इसी क्षेत्र में पहचान बनाना चाहती थी। इस सपने को साकार करने में मेरे माता-पिता का बडा योगदान... आगे पढ़े

अनेक बेसहारों का सहारा

Updated on 14 January, 2015, 22:12
एक पंजाबी गीत की ये पंक्तियां कह रही हैं कि बेटे जहां जमीन बांटने में व्यस्त रहते हैं वहीं बेटियां माता-पिता का दुख-दर्द बांटती हैं। आज न केवल पंजाब, बल्कि देशभर में ऐसे कई उदाहरण देखने-सुनने को मिल जाते हैं। राजू के मामले में भले ही ये शब्द पूरी तरह... आगे पढ़े

खुद को करें तैयार

Updated on 14 January, 2015, 22:10
जॉब मार्केट में मंदी का यह आलम है कि तमाम फ्रेशर्स डिग्री होल्डर्स को न तो कैंपस से प्लेसमेंट मिल पा रही है और न ही बाहर तलाशने पर। ऐसे में युवा कहीं भी, कुछ भी करने को तैयार हैं। इस स्थिति से बचने के लिए क्या करें और खुद... आगे पढ़े

सास-बहू में न बने तो क्या करें, पढ़ें उपाय

Updated on 14 January, 2015, 22:01
सास व बहू में आपसी संबंध कटु होने पर बहू चांदी का चौकोर टुकड़ा अपने पास रखें। हल्दी या केसर की बिंदी माथे पर लगाएं। हल्दी या केसर की बिंदी माथे पर लगाएं। गले में चांदी की चेन धारण करें। किसी से भी कोई वस्तु न लें। मंगलवार को मंदिर के बाहर बैठे गरीबों को... आगे पढ़े