भोपाल। मध्य प्रदेश में 4 सीटों पर होने वाले उपचुनाव की तारीखों का ऐलान भले अभी न हुआ हो। लेकिन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने खंडवा लोकसभा सीट के साथ बाकी तीन विधानसभा सीटों पर एक से दो बार पहुंच कर माहौल को गरमा दिया है। सीएम शिवराज ने इन सीटों पर सौगातों की झड़ी लगा कर माहौल को चुनावी कर दिया है। उन्होंने जनदर्शन के नाम पर करोड़ों की सौगात देकर लोगों को फील गुड कराने की कोशिश तेज कर दी है। कांग्रेस भी दमोह के फॉर्मूले पर उपचुनाव जीतने की उम्मीद कर रही है।मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 28 अगस्त को खंडवा में पीएम आवास योजना के तहत प्रदेश में 79 हजार 39 हितग्राहियों को 627 करोड़ रुपये की सहायता राशि दी। खंडवा में 50,253 कार्यों का भूमि पूजन किया। 12 सितंबर रैगांव में 44 करोड़ के विकास कार्यों की सौगात दी। 14 सितंबर को पृथ्वीपुर सीट पर जनदर्शन कार्यक्रम के तहत हर घर पानी पहुंचाने के लिए 270 करोड़ रुपए और सिविल अस्पताल की सौगात दी। इसके अलावा मुख्यमंत्री चौहान ने 15 सितंबर को जोबट में आदिवासियों को हेलीकॉप्टर से सैर कराई और 6 किलोमीटर मार्ग की सौगात दी।  70 करोड़ के 135 कार्यों का भूमिपूजन और लोकार्पण किया। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान यहीं नहीं रुके। वे 25 सितंबर को एक बार फिर रैगांव पहुंचे और यहां  कॉलेज, स्टेडियम बनाने का ऐलान किया। उन्होंने यहां 24 करोड़ 75 लाख के 745 विकास कार्यों का भूमि पूजन किया।

कांग्रेस में हड़कंप, दमोह फॉर्मूले पर भरोसा
प्रदेश के मुखिया शिवराज के इन ताबड़तोड़ दौरों से कांग्रेस में हड़कंप मचा हुआ है। फिलहाल रणनीति बनाने में जुटी कांग्रेस 4 सीटों के उपचुनाव में दमोह फॉर्मूले के भरोसे है। यहां पार्टी नेताओं ने सारे मतभेद भुलाकर एकजुटता से जीत हासिल की। कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी और एआईसीसी सचिव संजय कपूर ने कहा कि दमोह उपचुनाव में कांग्रेस को जीत हासिल हुई थी और आगामी 4 सीटों पर भी पार्टी को जीत मिलेगी। पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी अपने स्तर पर उपचुनाव की तैयारियां कर रही है। तारीखों के ऐलान के बाद कांग्रेस की तैयारियां जमीन पर दिखाई देंगी।