श्रीनगर । केंद्रीय विद्युत और नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह ने कहा कि केंद्र सरकार जम्मू-कश्मीर को बिजली अधिशेष प्रदेश बनाने की दिशा में हर संभव मदद करने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि सरकार जम्मू-कश्मीर में सभी आपूर्ति बाधाओं को दूर करने और नागरिकों को चौबीस घंटे गुणवत्तापूर्ण बिजली प्रदान के लिए भी प्रतिबद्ध है। एक आधिकारिक प्रवक्ता के अनुसार सिंह जम्मू-कश्मीर के दो दिवसीय दौरे पर यहां आए हैं। उन्होंने इस दौरान जम्मू-कश्मीर में नागरिकों के जीवन को और बेहतर बनाने और उद्योगों के लिए कारोबार सुगमता में सुधार के लिए हर समय गुणवत्तापूर्ण बिजली की आपूर्ति प्रदान करने की सरकार की प्रतिबद्धता पर जोर दिया। मंत्री ने 118 करोड़ रुपए की लागत वाली छह पारेषण एवं वितरण परियोजनाओं के लिए यहां राज भवन में आयोजित उदघाटन समारोह में यह बात कही। सिंह और प्रदेश के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने परियोजनाओं का सयुंक्त रूप से ऑनलाइन उदघाटन किया। इस अवसर पर उपराज्यपाल सिन्हा ने लोगों की बिजली की मांग को पूरा करने के लिए सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों का उल्लेख किया। उन्होंने कहा ‎कि एक मजबूत बिजली क्षेत्र का मतलब जीवन को सुगम बनाना, औद्योगीकरण और रोजगार में वृद्धि है। हम जम्मू-कश्मीर के बिजली के बुनियादी ढांचे को मजबूत कर रहे हैं जो पिछले कई दशकों से जर्जर है।