राजनांदगांव  छत्तीसगढ़ में अपने राजनांदगांव से भाजपा सांसद संतोष पांडेय ने कांग्रेस सरकार पर कई आरोप लगाए हैं। कवर्धा कस्बे में हिंसा मामले में खुद के खिलाफ एफआईआर से नाराज संतोष ने कहा कि कांग्रेस सरकार भाजपा कार्यकर्ताओं पर पक्षपातपूर्ण ढंग से कार्रवाई कर रही है। 

वीडियो फुटेज देखने की कही बात

संतोष पांडेय ने कहा कि दो समुदायों के बीच हुई घटना में भाजपा कार्यकर्ताओं पर कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने कहा कि यह पूरी तरह से गलत है। उन्होंने वीडियो फुटेज देखने की बात भी कही। वहीं संतोष पांडेय ने लखीमपुर में मारे गए किसानों को बघेल सरकार द्वारा 50 लाख रुपए देने की घोषणा पर सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि अगर छत्तीसगढ़ के सिलगर में मारे गए आदिवासियों को 45 लाख दिए होते तो बड़ी बात होती। 

बिना तथ्य बयानबाजी कर रही कांग्रेस

संतोष पांडेय ने कहा कि सरकार इस मामले में एकतरफा कार्रवाई कर रही है। हम इसके लिए भूख हड़ताल करेंगे। कवर्धा मामले में कांग्रेस बिना तथ्य के बयानबाजी कर रही है। पांडेय राजनांदगांव जिले में एक दिन की विजिट पर पहुंचे थे और मीडिया से बात कर रहे थे। कवर्धा एसपी मोहित गर्ग ने बताया कि तीन दिन पहले यहां हुई हिंसा मामले में संतोष पांडेय और अभिषेक सिंह समेत सात लोगों पर एफआईआर दर्ज की गई है। गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ के कवर्धा कस्बे में दो समुदायों के बीच धार्मिक झंडा फहराने के विवाद को लेकर स्थित तनावपूर्ण हो गई थी।