समीरा संवेदना समिति एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा आरूषी संस्था के सहयोग से विधिक सहायता शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में  समीरा संवेदना की अध्यक्ष मीरा सिंह ने कहा कि दिव्यांगों में कानून की समझ बेहद जरूरी है ताकि वे अपने जीवन संग्राम पर सफलतापूर्वक विजय पा सकें।

श्रीमती सिंह आज आरूषी संस्थान में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा आयोजित विधिक साक्षरता शिविर को संबोधित कर रही थी।

शिविर में जिला सत्र न्यायधीश श्री लवानिया द्वारा कानूनी की जानकारी दी गई। शिविर में नूनत कॉलेज की लेक्चरर शशि नायक, अधिवक्ता संगीता मुहर्रिर, इंद्रा जावेद, प्रीतिभा, पूर्व जज महिला सदस्य सुशील गोयल, आरुषि संस्था के प्रमुख रोहित  सहित नूतन कॉलेज की छात्राओं ने भाग लिया। शिविर के अंत में छात्राओं को कानून संबंधी समस्याओं का समाधान बताया गया।