खरगोन मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान राज्य में ‘मामा’के रूप में जाने जाते हैं। सोमवार को जब वो खरगोन में आदिवासी समुदाय की बच्चियों के कार्यक्रम में पहुंचे तो खुद को रोक नहीं सके। इस दौरान आदिवासियों के पारंपरिक नृत्य को देखकर खुद रोक नहीं सके और जमकर डांस किया। उन्होंने कहा कि मामा है तो भला कोई भांजी निराश  कैसे हो सकती है।

बच्चियों ने कहा मामा के हाथ से खाना है केक

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज अपने जनदर्शन कार्यक्रम के लिए खरगोन पहुंचे थे। वहां जिले के शिवना ग्राम में जब वे पहुंचे तो आदिवासी समुदाय की युवतियों का समूह नृत्य कर रहा था। ये लोग अपने सहेलियों कृतिक व कनक का जन्मदिन मना रहे थे। मगर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को अपने बीच पाकर बच्चियों ने मामा के रिश्ते का हवाला देकर केक उनके हाथ से खाने की जिद पकड़ ली। 

सीएम को सिखाए डांस के स्टेप

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने हाथों से बच्चियों को केक खिलाकर उनकी जिद को पूरा किया। इसके साथ ही पारंपरिक नृत्य की वेशभूषा में सजी भाजियों को देखकर वे खुद को डांस करने से रोकने नहीं पाए। बच्चियों ने उनके अपने समुदाय के पुरुषों की वेशभूषा को पहनाकर उनके साथ डांस किया। इन युवतियों ने शिवराज सिंह चौहान को अपने नृत्य के कुछ स्टेप भी सिखाए।