इंदौर में पश्चिमी एसपी के बंगले से महज 300 मीटर की दूरी पर बदमाशों ने चाकू घोंपकर प्रॉपर्टी ब्रोकर की हत्या कर दी। हत्या से पहले आरोपियों ने पूछा कि क्या तुम हमें पहचानते हो? प्रॉपर्टी ब्रोकर ने कोई जवाब नहीं दिया। इसके कुछ देर बाद बदमाश वापस आए। फिर एक ने प्रॉपर्टी ब्रोकर को गले लगाया और गले में ही चाकू घाेंपकर उसे मार डाला। वारदात की सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची, लेकिन तब तक आरोपी फरार हो गए थे। बताया जा रहा है कि प्रॉपर्टी ब्रोकर की दिसंबर में शादी थी।

घटना संयोगितागंज थाना क्षेत्र के रेसिडेंसी एरिया की है। यहां पर कई पुलिस अफसरों के बंगले हैं। प्रॉपर्टी ब्रोकर कपिल मेव (38) अपने दोस्त हरीश परमार और पंकज के साथ सोमवार देर शाम को आकाशवाणी केंद्र के पास बैठा था। तभी चार-पांच युवक आए और बोले- तुम हमें जानते हो क्या? इतना कहकर वे कुछ दूर चले गए। फिर एक युवक आया और कपिल से गले मिला और उसके गले में ही चाकू घोंप दिया। वारदात को अंजाम देने के बाद सभी आरोपी भाग निकले। ज्यादा खून बहने से कपिल की मौत हो गई।

मौके पर पहुंचे पुलिस अधिकारियों के अनुसार, कपिल और उसके साथी बैठकर बातें कर रहे थे। बदमाशों ने उन पर हमला क्यों किया, इसकी जांच की जा रही है। पुलिस ने बताया कि मौके पर मौजूद कपिल के दोस्त ने बताया कि वह एक बाइक सवार बदमाश को पहचानता है। वह 15 दिन पहले ही जेल से छूटकर आया है। पुलिस मृतक के दोस्त की निशानदेही पर आरोपियों को पकड़ने में जुटी हुई है।